“सुन पगली पर्सनैलिटी की तो बात ही मत कर,
मैं आज भी जिस गली से निकलता हूं
तो सारी लड़की, एक ही सॉन्ग गाती हैं
बहारों फूल बरसाओ मेरा महबूब आया है।”




Categories: LoveAttitude[#1061]

“सुन पगली पर्सनैलिटी की तो बात ही मत कर, मैं आज भी जिस गली से निकलता हूं तो सारी लड़की, एक ही सॉन्ग गाती हैं बहारों फूल बरसाओ मेरा महबूब आया है।”